Monday, April 25, 2016

Happy birthday to me.!

लखनऊ में अपनी पैदाइश हुई ..
फिर मोहल्ले भर में नुमाइश हुई |

साईकिल तक टाँगे पहुँचने लगी,
फिर फेहरिस्त बनी, फरमाइश हुई |

जब बड़े हुए, और सियाने हुए ,
फिर दिल में जवान ख्वाहिश हुई |

कॉलेज से पढ़ लिख के निकले ,
फिर खुद की शुरू आजमाइश हुई |

कुछ यादों-इरादों के साथ आज ,
“कुश” की उमर अटठाइस हुई |

...

1 comment: